Sports

Don't Miss!

डिविडेंड ट्रांसफर को मंजूरी देने के अलावा, रिजर्व बैंक (RBI) के बोर्ड ने पिछले वर्ष के 6% से आकस्मिक जोखिम बफर (सीआरबी) को बढ़ाकर 6.5% करने का फैसला किया।

भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) के मई बुलेटिन में विस्तृत यह पूर्वानुमान, ग्रामीण क्षेत्रों में बढ़ती कुल मांग और बढ़े हुए non-food के खर्च से प्रेरित है।

मास्टरकार्ड इकोनॉमिक्स इंस्टीट्यूट की नवीनतम रिपोर्ट, “Travel Trends 2024: Breaking Boundaries” के अनुसार, यह उछाल भारतीय मध्यम वर्ग की निरंतर विकसित होती जीवनशैली, बढ़ी हुई यात्रा सुविधा और नई जगहों को देखने के लिए बढ़ते उत्साह को दर्शाता है।

Net Profit पहली बार 3 लाख करोड़ रुपये की सीमा के पार वाली यह उपलब्धि चुनौतीपूर्ण वैश्विक आर्थिक माहौल के बीच इस क्षेत्र की विकास क्षमता को भी रेखांकित करती है।